ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों के कार्मिकों व श्रमिकों को समय पर वेतन भुगतान की पहल -एसीएस उद्योग
March 30, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान


जयपुर। राज्य सरकार ने औद्योगिक इकाइयोें व संस्थानों के कार्मिकों व श्रमिकों के समय पर वेतन भुगतान के लिए बड़ी पहल की है। अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों को अपने कार्मिकों और श्रमिकों को निर्धारित समय पर डिजिटल प्लेटफार्म पर लेन-देन के माध्यम से वेतन भुगतान करने को कहा है।


एसीएस उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने सोमवार को इस आषय की एडवाइजरी जारी कर लॉक डाउन अवधि में औद्योगिक इकाइयो व संस्थानो के कार्मिकों और श्रमिकों को लॉक डाउन में बिना कटौती के निर्धारित समय पर डिजीटल प्लेटफार्म पर सीधे खातों में ऑनलाईन या सीधे खातों में हस्तांतरण यानी डीबीटी के माध्यम से या एनईएफटी या आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान करने को कहा है। उन्होंने बताया कि औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों के कार्मिकों की दैनिक आवष्यकताओं की पूर्ति के लिए वेतन आदि की आवष्यकता को देखते हुए श्रमिकों व कार्मिकों के व्यापक हित में यह एडवाइयजरी जारी कर यह निर्देष दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि केन्द्र व राज्य सरकार के गृह विभाग द्वारा जारी निर्देषों के क्रम में यह एडवाइजरी जारी की गई है।


डॉ. अग्रवाल ने बताया कि एक और जहां औद्योगिक इकाइयां व संस्थान अपने कार्मिकों व श्रमिकों को भुगतान करना चाहते हैं तो दूसरी और इन इकाइयों के कार्मिकों व श्रमिकों द्वारा वेतन की आवष्यकता महसूस की जा रही है। ऐसे में औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों को समय पर लॉक डाउन के दौरान वेतन भुगतान को कहा गया है। उन्होंने बताया कि जिन इकाइयों व संस्थानों में ऑनलाईन प्लेट फार्म पर भुगतान में कोई दिक्कत हो तो ऐसे में संबंधित कार्मिकों के लिए सीमित पास जारी कर भुगतान की व्यवस्था कराने के निर्देष दिए गए हैं। एडवाइजरी पुलिस आयुक्त, जिला कलक्टरों, पुलिस अधीक्षकों और श्रम आयुक्त को भी समन्वय  हेतु भेजी गई है।


उद्योग आयुक्त  मुक्तानन्द अग्रवाल ने जिला उद्योग केन्द्रों के महाप्रबंधकों को विभागीय एडवाइजरी के व्यापक प्रचार-प्रसार का निर्देष दिए हैं ताकि कार्मिकों व श्रमिकों को समय पर वेतन भुगतान सुनिष्चित हो सके। उन्होंने कार्मिकों व श्रमिकों से भी आग्रह किया है कि कार्मिक व श्रमिक भी जहां तक हो सके डिजीटल प्लेटफार्म पर ही लेन-देन करें व बहुत ही अधिक आवष्यकता पर निकटतम एटीएम से जरुरत के अनुसार राषि प्राप्त करें।


जिला स्तर पर 205 इकाइयो ने संपर्क साधा, 131 कार्मिकों के पास जारी


अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया है कि पिछले दो दिनों में राज्य स्तर पर 15 और जिला स्तर पर 205 इकाइयोें ने संपर्क किया है वहीं जिला स्तर पर श्रमिकों व कार्मिकों के दो दिनों में 131 पास जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही औद्योगिक इकाइयों के निर्बाध संचालन के लिए उद्योग विभाग और रीको के अधिकारियों को आवष्यक पास, परमिट और अनुमति पत्र जारी करने के लिए जिला एवं राज्य स्तर पर प्राप्त आवेदनो का परीक्षण कर गुणावगुण के आधार पर निर्णय किया जा रहा है। गौरतलब है कि स्वयं एसीएस उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल, एमडी रीको आषुतोष पेडनेकर और आयुक्त उद्योग मुक्तानन्द अग्रवाल सीधे समन्वय बनाते हुए लगातार मोनेटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अनुमति जारी करते समय पहली प्राथमिकता कोरोना वायरस के चलते जारी एडवाइजरी और निर्देषों की पालना सुनिष्चित तय करना है।