ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
बुधवार को तीन फ्लाइट से 545 प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचे 18 जून को 4 फ्लाइटाें से आएंगे प्रवासी राजस्थानी
June 17, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान
जयपुर। बुधवार को जयपुर में तीन फ्लाइट से करीब 545 प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचे। अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि बुधवार को दोपहर में कजाकिस्तान से आई फ्लाइट में 221 प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचे वहीं कुबेत से सायं 6 बजे और रात 9 बजे आई दो फ्लाइटों में लगभग 162-162 प्रवासी जयपुर आ रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा एयरपोर्ट पर आवश्यक सभी व्यवस्थाओं को चाकचोबंद कर रखा है। 18 जून को चार फ्लाइट से प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचेंगे।
 
एसीएस उद्योग डॉ. अग्रवाल ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा विदेश से आने वाले प्रवासी राजस्थानियों के लिए गठित एयर सेल द्वारा नियमित मोनेटरिंग की जा रही है। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट पर भी मेडिकल प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित करने के साथ ही आने वाले प्रवासियों को सहयोग व मार्गदर्शन दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट पर थर्मल स्केनिंग, चिकित्सकों की टीम द्वारा मेडिकल चैकअप, इमिग्रेशन के बाद सभी प्रवासी राजस्थानियाें को संस्थागत क्वारेंटाइन के लिए भिजवाया जा रहा है।
 
एयरपोर्ट पर क्वारेंटाइन अधिकारी बिरधी चंद गंगवाल, पर्यटन विभाग के उपनिदेशक उपेन्द्र सिंह शेखावत, रीको के डीजीएम तरुण जैन, संयुक्त निदेशक चिकित्सा डॉ. एसके भण्डारी और उपमुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. निर्मल जैन, डॉ. धनेश्वर व चिकित्सकों की टीम, जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के दल द्वारा सभी व्यवस्थाओं की देखरेख की जा रही है।
 
फ्लाइट के आते ही सोशल डिस्टेसिंग, सेनेटाइजेशन, थर्मल स्केनिंग व डॉक्टरों की टीम द्वारा स्वास्थ्य जांच, उसके बाद संस्थागत क्वारेंटाइन की व्यवस्था, इमिग्रेशन और अन्य औपचारिकताओं के बाद बसों से क्वारेंटाइन के लिएं भिजवाया जा रहा है। 
 
एयरपोर्ट पर सभी प्रवासियाें के मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु और राजकोविड इंफो एप डाउनलोड करवाया जा रहा है वहीं एयरपोर्ट पर सभी प्रवासियों के लिए चाय, कॉफी, पीने का पानी, बिस्कुट आदि की निःशुल्क व्यवस्था है। फ्लाइट से आने वाले सभी प्रवासियों को संस्थागत क्वारेंटाइन के स्टेण्डर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर से संबंधित विस्तृत जानकारी भी दी जा रही है।