ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
बुधवार नीलामी: उत्सव सभी के लिए किश्तों में आवास योजना में 2300 लोगों ने कराया पंजीयन
June 9, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान
जयपुर। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि बुधवार नीलामी उत्सव के तहत सभी के लिए किश्तों में आवास योजना में भाग लेने के लिए लोगों में अपूर्व उत्साह देखने को मिल रहा है। मंगलवार तक 2300 लोगों ने अपना पंजीयन करा लिया, जिसमें से 550 लोगों ने लगभग 7 करोड़ रूपये राशि ईएमडी के रूप में जमा करवा दी है। योजना के तहत बुधवार सांय 4 बजे तक ई-बिड सबमिट कराई जा सकती है। 
 
उन्होंने बताया कि सभी के लिए किश्तों में आवास योजना के तहत 39 शहरों की 45 योजनाओं में 50 प्रतिशत तक छूट पर आवास उपलब्ध कराए जा रहे हैं। मंडल इतिहास में पहली बार इतनी भारी छूट के साथ 13 वर्ष की आसान 156 मासिक किश्तों पर आमजन को आवास उपलब्ध हो रहे हैंं। उल्लेखनीय है कि इस योजना में 1 जून से पंजीकरण और 8 जून से ई-बिड सबमिशन प्रारंभ किया गया था। इस योजना का आमजन में जबर्दस्त क्रेज देखने को मिल रहा है। योजना की जानकारी लेने के लिए मुख्यालय के कॉलसेंटर की घंटियां लगातार बज रही हैं और हेेल्पडेस्क पर खरीददारों की लाइनें लगी हुई हैं। 
 
बिड में भाग लेने की प्रक्रिया है अत्यंत सरल और आसान 
 
बुधवार नीलामी उत्सव के तहत सभी को किश्तों में आवास योजना के अन्तर्गत ऑनलाईन बिड की प्रक्रिया बेहद सरल और आसान है। आवेदक आवासन मण्डल के सभी कार्यालयों की हैल्प डेस्क, घर बैठे या ई-मित्र पर जाकर अपनी बिड/नीलामी प्रस्ताव प्रत्येक सोमवार को प्रातः 10.00 बजे से बुधवार सांय 4.00 बजे तक ऑनलाईन प्रस्तुत कर सकता है। इन प्रस्तावों को पूर्ववत प्रत्येक बुधवार सांय  4.30 बजे ऑनलाईन ही खोला जायेेगा एवं सफल बिडदाता को किश्तों पर आवास आवंटित किया जायेगा। इस योजना से संबंधित नियम, शर्तोें, उपलब्ध आवासों की सूची, आरक्षित दर, छूट का प्रतिशत एवं ऑनलाईन प्रस्ताव देने की प्रक्रिया आवासन मण्डल की वेबसाईट पर देखी जा सकती है। 
 
आवेदक न हों परेशान, इसलिए मंडल ने लगाई हेल्पडेस्क और नियुक्त किए नोडल अधिकारी 
 
आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि आमजन इस योजना में आसानी से भाग लेकर अपने घर का सपना साकार कर सके, इसलिए मंडल द्वारा मुख्यालय सहित सभी प्रमुख कार्यालयों पर हेल्पडेस्क बनाई गई है। यहां जाकर कोई भी आवेदक योजना की जानकारी प्राप्त कर सकता है और आवेदन कर सकता है। इसके साथ ही प्रत्येक योजना की जानकारी देने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं, जिनके नाम और नम्बर मंडल की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।