ALL राजस्थान राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
देश में बनेंगे एक हजार उपभोक्ता सलाह एवं सेवा केन्द्र
March 15, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान

नया उपभोक्ता कानून शीघ्र प्रभावी कराने के लिए राष्ट्रव्यापी अभियान भी हुआ शुरू.

जयपुर। उपभोक्ता को सीधे राहत पहुंचाने के लिए देश भर में एक हजार उपभोक्ता सलाह एवं सेवा केन्द्र स्थापित किए जाएंगे। विश्व उपभोक्ता दिवस के मौके पर आयोजित समारोह में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए भारतीय उपभोक्ता परिसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अनन्त शर्मा ने यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि इन केन्द्रों का संचालन सीसीआई से जुडे विभिन्न स्वैच्छिक उपभोक्ता संगठनों के माध्यम से पीपीपी मोड पर किया जाएगा। समारोह का आयोजन कंज्यूमर कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडिया सीसीआई की ओर से केन्स सहित विभिन्न उपभोक्ता संगठनों के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।

समारोह की अध्यक्षता राज्य उपभोक्ता संरक्षण आयोग के सदस्य रामफूल गुर्जर ने की। इस अवसर पर भारत सरकार के एगमार्का विभाग के एसएमएम आर.सी. मीणा, राजस्थान सरकार की राज्य उपभोक्ता हैल्पलाइन के प्रबंधक डॉ. रामबहादुर कुलश्रेष्ठ, वरिष्ठ चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ. विवेकानंद गोस्वामी एवं विशेषज्ञ अधिवक्ता देवेन्द्र मोहन माथुर विशिष्ट वक्ता थे।

इस अवसर पर देश में नया उपभोक्ता संरक्षण कानून शीघ्र प्रभावी करने के लिए राष्ट्रव्यापी अभियान की भी शुरुआत की गई और इस वर्ष के विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस की थीम 'दी सस्टेनेबल कंज्यूमर' विषय पर वक्ताओं ने विस्तार से विचार व्यक्त किए। समारोह में विभिन्न उपभोक्ता संगठनों के प्रतिनिधि, सरकारी अधिकारी एवं विषय विशेषज्ञ उपस्थित थे।

प्रारंभ में विषय प्रवर्तन करते हुए केन्स महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्षा एवं शिक्षाविद् दीक्षिता पापड़ीवाल ने बताया कि 15 मार्च को दुनिया भर में विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस मनाया जाता है क्योंकि 15 मार्च 1962 को अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति जॉन एफ. कैनेडी ने पहली बार उपभोक्ता अधिकारों की घोषणा की थी। उन्होंने विषय के अनुरुप एन्वॉयर्नमेंट फ्रेण्डली प्रॉडक्ट अपनाए जाने पर जोर दिया। केन्स के संयुक्त सचिव सुरेश कौशल ने कंज्यूमर इण्टरनेशनल द्वारा जारी थीम पर तकनीकी पत्र प्रस्तुत किया। केन्स के निदेशक राजकुमार शर्मा ने उपभोक्ता संरक्षण कानून के प्रावधानों पर प्रकाश डाला।

कार्यक्रम प्रभारी विनोद पारीक ने खाद्य पदार्थों में मिलावट पर चिंता जताई और 'नो मोर अडल्ट्रेशन' कैम्पेन की जानकारी दी। सीसीआई की निदेशक सरोज पारीक ने अतिथियों का स्वागत किया। कंज्यूमर्स वर्ल्ड के कार्यकारी संपादक दुर्गेश माथुर ने नए कानून में किए गए बदलावों के संबंध में तुलनात्मक अध्ययन पत्र पढ़ा। राजकुमार बनावरी ने सीसीआई द्वारा इस मौके पर लांच किए गए नए अभियानों की जानकारी दी और महेन्द्र सिंह शेखावत ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर सीसीआई का राष्ट्रव्यापी सदस्यता अभियान भी शुरू हुआ। समारोह में कोरोना वायरस को लेकर भी विस्तार से चर्चा हुई और विशेषज्ञों ने इसके बचाव के उपायों से अवगत कराया।

समारोह का आयोजन केन्स, इंटरनेशनल कंज्यूमर एक्शन नेटवर्क, कंज्यूमर प्रोटेक्शन ट्रस्ट, अखिल राजस्थान उपभोक्ता संगठन महासंघ, काउंसिल ऑफ वीसीए एण्ड पीसीए, रॉयल कंज्यूमर्स क्लब, एरिया कंज्यूमर प्रोटेक्शन कमेटी, इंस्टीट्यूट ऑफ कंज्यूमर एजूकेशन एण्ड मैनेजमेंट व कंज्यूमर्स वर्ल्ड के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।