ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
ग्रामीण क्षेत्र में प्रवासियों से नरैगा के माध्यम से जल संरक्षण और वृक्षा रोपण जैसे कार्य कराए: कर्नल राज्यवर्धन
May 12, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान

प्रवासियों को योग्यतानुसार रोजगार उपलब्ध करवाने की व्यवस्था हो।, प्रदेश मे आने वाले वाहनों एवं चालकों को सैनिटाईज करने की व्यवस्था की जाए।

जयपुर। आज मुख्यमंत्री की सांसदो एवं विधायकों के साथ  वीडियो काॅन्फ्रिेंिसग में पूर्व केन्द्रीय मंत्री और सांसद जयपुर ग्रामीण कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने कोरोना नियंत्रण और प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध करवाने सहित अनेक विषयों पर अपने सुझाव दिए। इस दौरान उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र में प्रवासियों से नरैगा के माध्यम से जल संरक्षण और वृक्षा रोपण करवाने, प्रवासियों को योग्यतानुसार रोजगार उपलब्ध करवाने व प्रदेश में आने वाले वाहनों एवं वाहन चालकों को सैनिटाईज करने की व्यवस्था सहित अनेक विषयों पर महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

कर्नल राज्यवर्धन ने कहा कि कोरोना को लेकर लोगों में डर बना हुआ है इसके लिए जागरूकता अभियान चलाने की आवश्यकता है क्योंकि विशेषज्ञों के अनुसार हमें लम्बे समय तक इस वायरस के साथ जीना होगा। बड़ी संख्या में जो प्रवासी आ रहें है उनमें अनेक कुशल और अकुशल कामगार है जो शहरी और ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों में जा रहें है। रोजगार उपलब्ध करवाना एक बड़ी चुनौती है हमारा प्रयास यही होना चाहिए कि इन्हे अपनी रूचि का ही कार्य मिल सके, इसके लिए रोजगार कार्यालय की भांति ही कार्यालय खोला जाए जिससे प्रवासियों को उनकी योग्यता के अनुसार कार्य मिल सके। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में जाने वाले प्रवासियों को नरैगा के माध्यम से जल संरक्षण और वृक्षा रोपण जैसे कार्यों में लगाया जा सकता है जिससे वर्षा जल का संरक्षण होगा और जल स्तर भी बढ़ेगा।

कर्नल राज्यवर्धन ने कहा कि जयपुर ग्रामीण के तहसीलें कोरोना संक्रमण से मुक्त है उन तहसीलों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाॅकडाउन में पूर्णतः छूट मिलनी चाहिए जिससे आर्थिक गतिविधियां प्रारम्भ हो सकें। जयपुर ग्रामीण से सब्जियां दिल्ली तक पहुचाई जाती है जिससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ा है इससे निपटने के लिए प्रदेश की समीमाओं में आने वाले वाहनों एवं चालकों को सैनिटाईज करने की व्यवस्था की जानी चाहिए। नागरिकों के मोबाईल में आरोग्य सेतु एक डलवाने के लिए कहा जिससे संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचा जा सके। राशन वितरण में हो रहे भेदभाव और अनियमितताओं को रोकने के लिए उन्होंने लोगिंग एवं अकाउन्टिग व्यवस्था करने का सुझाव दिया जिससे एक ही स्थान पर बार-बार राशन वितरण ना हो।

कर्नल राज्यवर्धन ने किसानों के हित को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा कृष्क कल्याण शुल्क पर पुनः विचार करने के लिए कहा। टिड्डी दल के हमले से फसलों को बचाने के लिए उन्होंने जिस रास्ते से होकर टिड्डी दल आगे बढ़ रहा है उसमें प्रोएक्टिव होकर पेस्टीसाईड स्प्रे करवाने का सुझाव दिया। कर्नल राज्यवर्धन ने कहा कि पुरानी बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति कोरोना वायरस से शीघ्र संक्रमित होता है इस लिए अस्पतालों में 2 प्रकार की ओपीडी होनी चाहिए। वीडियो काॅन्फ्रिेंिसग के माध्यम से सभी से बात कर सुझाव मांगने पर कर्नल राज्यवर्धन ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया।