ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा परिषद द्वारा मुख्यमंत्री सहायता कोष एवं प्रधानमंत्री केयर्स फंड में 5,42,000 का सहयोग
April 23, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान

राजस्थान के इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सक स्वास्थ्य आपातकाल में सेवाएं देने को तैयार

जयपुर। राजस्थान इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सकों की काउंसिल "इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा परिषद" द्वारा Covid -19 रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष एवं प्रधानमंत्री केयर्स फंड में ₹ 5,42,000 का आर्थिक सहयोग प्रदान किया गया।

मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए मुख्यमंत्री के विशेषाधिकारी देवाराम जी सैनी को ₹321000 का चेक सौंपा गया। साथ ही राजस्थान सरकार को प्रदेश के 29 जिलों के इलेक्ट्रोपैथी जिला सचिवों की सूची फोन नंबर के साथ दी गई एवं निवेदन किया गया कि राज्य सरकार को किसी भी जिले में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सकों की आवश्यकता हो तो सम्बंधित जिला सचिव से संपर्क कर सहयोग ले सकते हैं।

चेक प्रदान करते समय परिषद के महासचिव इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सक लुणेश मालवीय, सचिव गोविंदलाल सैनी एवं परिषद के रजिस्ट्रार कुलदीप वर्मा उपस्थित रहे। देवाराम जी ने आर्थिक सहयोग एवं चिकित्सकीय सहयोग देने के परिषद के प्रस्ताव की प्रशंसा करते हुए हार्दिक धन्यवाद दिया।

परिषद के अध्यक्ष डॉ हेमंत सेठिया ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री केयर्स फंड के लिए ₹2,21,000 का चेक जयपुर के सांसद रामचरण जी बोहरा को भेंट किया गया। चेक भेंट करते समय इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सक कुलदीप वर्मा एवं महेंद्र चौधरी भी उपस्थित थे। बोहरा ने बताया कि महामारी के इस संकटकाल में परिषद द्वारा दिया गया सहयोग प्रशंसनीय है। डॉक्टर सेठिया से चर्चा करते हुए सांसद रामचरण बोहरा ने जानकारी दी कि केंद्र सरकार Covid -19 की चिकित्सा के लिए सभी प्रकार की चिकित्सा पद्धतियों के वैज्ञानिक पहलुओं का परीक्षण करते हुए संभावनाओं की तलाश कर रही है। बोहरा ने जानकारी दी कि 21 अप्रैल को भारत सरकार द्वारा नोटिस जारी करते हुए आयुष पद्धतियों को भी Covid -19 के उपचार के लिए अनुमति प्रदान कर दी गई है।

केंद्र सरकार के इस निर्णय की डॉ. सेठिया द्वारा भूरी भूरी प्रशंसा की गई एवं आयुष पद्धतियों को अवसर देने के लिए प्रधानमंत्री महोदय का आभार व्यक्त किया। परिषद अध्यक्ष ने जानकारी देते हुए बताया कि हमने जिला अनुसार इस महामारी में सेवा दे सकने वाले हमारे इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सकों की सूची बनाकर संबंधित जिले के चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी को सौंप दी है। कई जिलों में हमारे चिकित्सक राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं में इस महामारी से पार पाने के लिए अपना अमूल्य योगदान दे रहे हैं।

डॉक्टर सेठिया ने जानकारी देते हुए बताया कि राजस्थान में कार्यरत सैकड़ों इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सक इस संकटकाल में अनेक प्रकार से समाज सेवा के अपने दायित्व का पूरी निष्ठा से निर्वाह कर रहे हैं। जिनमें मुख्यत: इम्यूनिटी बढ़ाने वाली इलेक्ट्रोपैथी दवाओं का जगह-जगह पर वितरण, इलेक्ट्रोपैथी औषधियों से बने सैनिटाइजर का वितरण, Covid-19 से बचाव की जानकारी, सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं में योगदान, मास्क का वितरण एवं भोजन पैकेट सहित सुखी खाद्य सामग्री का आवश्यक स्थानों पर वितरण कर सेवाएं दी जा रही है। परिषद ने सभी स्वास्थ्य कार्यों सहित अन्य सेवा कार्यों के लिए राज्य के सैकड़ों चिकित्सकों को लोकडाउन के दौरान वीडियो कांफ्रेंस के द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया है।