ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
कलक्टर राव ने वॉर रूम की बैठक में लॉकडाउन के संबंध में दिए निर्देश
May 19, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान

बारां। जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव ने कहा कि कोरोना आपदा के तहत केन्द्र व राज्य सरकार से प्राप्त निर्देशानुसार जिले में 31 मई तक लॉकडाउन 4 के नियम प्रभावी हो गए हैं जिसकी पालना सुनिश्चित की जानी चाहिए।

कलक्टर राव मंगलवार को कोरोना आपदा के तहत दैनिक वॉर रूम की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अन्ता के रायपुरिया से जो वृद्ध कोरोना पोजिटिव आए थे और बाद में उनकी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी उनकी मृत्यु की सूचना है लेकिन राज्य सरकार द्वारा इसे कोविड के तहत मृत्यु नहीं माना गया है क्योंकि उक्त वृद्ध की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी थी। इसी क्रम में हरनावदाशाहजी के युवक की रिपोर्ट भी अब नेगेटिव आ गई है जो जिले के लिए शुभ संकेत है।

कलक्टर राव ने कहा कि जिले से प्रवासी श्रमिकों को बसों व टेªन के माध्यम से आगामी 3 दिवस में रवाना किया जाएगा इस संबंध में समस्त तैयारियां कर ली गई हैं। बैठक में सीईओ जिला परिषद बृजमोहन बैरवा ने लॉकडाउन 4 के तहत राज्य सरकार के निर्देश व अनुमत व प्रतिबंधित गतिविधियों के संबंध में जानकारी प्रदान करते हुए बताया कि ग्रीन जोन में होने के कारण जिले को पूर्व में प्राप्त रियायतों के साथ कुछ रियायतें और प्राप्त हुई है।

ये प्रतिबंध रहेंगे-                                                                                                                                    लॉकडाउन 4 के तहत दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत सार्वजनिक स्थानों पर 5 व्यक्तियों के आवगमन या एकत्रित होने पर प्रतिबंध रहेगा। इस दौरान पुलिस, जिला प्रशासन, सरकारी अधिकारी जो सक्रिय फील्ड ड्यूटी पर है। चिकित्सक एवं अन्य चिकित्सा, पैरा मेडिकल स्टाफ, (राजकीय, निजी) पारी, आपातकालीन ड्यूटी पर। आईटी और आईटीस कम्पनियों का स्टाफ (रात्रि यात्रा पास जिला प्रशासन, पुलिस से प्राप्त करना होगा)। चिकित्सा या अन्य आपातकालीन स्थिति के लिए। दवा की दुकानों के मालिक और स्टाफ (रात्रि पास के साथ)। ट्रक, माल वाहक जो माल, निर्माण या अन्य किसी सामग्री को लेकर परिवहन कर रहे या खाली लौट रहे हों के आवागमन पर प्रतिबंध नहीं रहेगा।

सभी कार्यस्थल दुकानें, कार्यालय, कारखाना आदि सायं 6 बजे या इससे पूर्व बंद कर दिए जाएंगे ताकि इनका स्टाफ एवं अन्य व्यक्ति सांय 7 बजे तक अपने घर पहुंच जाएं। परंतु यह सीमा निरंतर उत्पादन के प्रकृति की फैक्ट्रियां, रात की पारी वाली फैक्ट्रियां, निर्माण गतिविधियां भीषण गर्मी की अवधि पर लागू नहीं होगी।

निषिद्ध गतिविधियां-
घरेलू चिकित्सा सेवाएंे, घरेलू एयर एम्बूलेंस, सुरक्षा उद्देश्यों या भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा अनुमत अन्य उद्देश्यों को छोड़कर, यात्रियों के लिए घरेलू एवं अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा। मैट्रो रेल सेवाएं। सभी विद्यालय, महाविद्यालय, शैक्षणिक, कोचिंग संस्थान आदि बंद रहेंगे। ऑनलाईन, डिस्टेंस लर्निंग को प्रोत्साहित किया जाएगा। स्वास्थ्य, पुलिस, सरकारी कर्मचारियों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, फंसे हुए व्यक्तियों सहित पर्यटकों के आवास के लिए तथा क्वारेन्टीन सुविधा के लिए उपयोग में लिए गए होटल्स एवं आतिथ्य सेवाओं को छोडकर अन्य सभी होटल एवं आतिथ्य सेवाएं तथा बंस डिपो, रेल्वे स्टेशन एवं हवाई अड्डों पर कैंटीन भी।

सभी सिनेमा हॉल, मॉल, शॉपिंग मॉल, व्यायाम शालाएंे, स्पोर्टस कॉम्पलेक्स, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर्स, बार, ऑडिटोरियम एवं एसेम्बिली हॉल और समान प्रकृति के स्थान बंद रहेंगे। सभी सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम तथा अन्य सभाएंे एवं बड़े सामूहिक आयोजन। सभी धार्मिक स्थल, पूजा स्थल जनता के लिए बंद रहेंगे। सभी धार्मिक सम्मेलन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। पान गुटका, तम्बाकू आदि का विक्रय प्रतिबंधित रहेगा।

प्रतिबंध सहित अनुमत-
स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, स्टेडियम, गोल्फ कोर्स, पोलो ग्राउण्ड खुल सकते है तथापि क्लब हाउस व समान सुविधाएं नहीं खुलेंगी एवं दर्शकों को अनुमति नहीं होगी। रेस्टोरेंट, भोजनालय, मिठाई की दुकानें टेक-अवे एवं होम डिलीवरी के लिए ही खुल सकेंगे एवं परिसर के अंदर किसी उपभोक्ता को अनुमति नहीं होगी। प्रतिबंधों के साथ समस्त दुकानें खोली जा सकेंगी। दुकानदार द्वारा किसी भी ग्राहक को कोई विक्रय नहीं किया जाएगा जिसने मास्क नहीं पहन रखा हो। किसी भी प्रकार का उल्लंघन करने पर परिणाम स्वरूप जुर्माना, दुकान बंद या कानूनी कार्यवाही की जाएगी। सभी व्यक्तियों द्वारा सार्वजनिक स्थानों और परिवहन में सामाजिक दूरी (न्यूनतम 6 फीट- ‘‘दो गज की दूरी’’) की पालना की जाएगी।

इसकी पालना नहीं करने पर जुर्माने से दण्डनीय होगा। एक समय पर छोटी दुकान पर दो से अधिक एवं बड़ी दुकान में 5 से अधिक उपभोक्ताओं को प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। अन्य व्यक्ति सामाजिक दूरी की अनुपालना करते हुए दुकान के बाहर पंक्ति में अपनी बारी की प्रतीक्षा करेंगे। मॉल्स में स्थित दुकानें इसमें सम्मिलित नहीं है। प्रत्येक ग्राहक की सेवा के उपरान्त पूर्ण सुरक्षा सावधानियों, कीटाणुशोधन एवं सफाई सहित नाई की दुकानें, सैलून एवं ब्यूटी पार्लर इत्योदि खुल सकेंगे।

विवाह संबंधी सामारोह के लिए उपखंड मजिस्टेªट से पूर्व में अनुमति प्राप्त करनी होगी। सामाजिक दूरी की अनुपालना की जाएगी और अधिकतम मेहमानों की संख्या 50 से अधिक नहीं होगी। इनमें से किसी का भी उल्लंघन करना एक अपराध होगा और भारी जुर्मानें से दण्डनीय होगा। अंतिम क्रियाकर्म, अंतिम संस्कार में सामाजिक दूरी की पालना की जाएगी और 20 से अधिक व्यक्तियों की अनुमति नहीं होगी।

मानक सावधानियां व प्रतिबंध-
सभी सार्वजनिक एवं कार्य स्थलों पर चेहरे पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा। चेहरे पर मास्क नहीं पहनना जुर्माने से दण्डनीय होगा। सार्वजनिक और कार्य स्थलों पर थूकना जुर्माने से दण्डनीय होगा। सभी व्यक्तियों द्वारा सार्वजनिक स्थानों और परिवहन में सामाजिक दूरी (न्यूनतम 6 फीट- ‘‘दो गज की दूरी’’) की पालना की जाएगी। इसकी पालना नहीं करने पर जुर्माने से दण्डनीय होगा। सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गुटका, तम्बाकू आदि का सेवन पूर्णतः प्रतिबंधित है।

आवागमन, परिवहन, पास -
गृह मंत्रालय की 17 मई 2020 की गाईडलाईन्स के परिशिष्ट-1 में व्यक्तियों के आवागमन हेतु वर्णित मानक संचालन प्रक्रियाएं जारी रहेंगी। राज्य, केन्द्र शासित प्रदेश की आपसी सहमति से यात्री वाहनों बसें, टैक्सी सहित का अंतर-राज्यीय आवागमन हो सकेगा। कोई ट्रक या अन्य माल, भाडा वाहन सामान, पशुधन, खनिज या निर्माण सामग्री आदि के साथ या खाली का अन्तराज्यीय एवं राज्य के भीतर आवागमन बिना रूकावट के रहेगा। मेडिकल प्रोफेशनल्स, नर्सेस एवं पैरा मेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मी एवं एम्बूलेंस का अर्न्तराज्यीय एवं राज्य के भीतर बिना रूकावट आवागमन रहेगा।

राज्य के भीतर एक जिले से (कोई जोन) से दूसरे जिले (कोई जोन) के लिए उद्योग या निर्माण गतिविधियों के लिए श्रमिकों का परिवहन अनुमत है। राज्य के भीतर गृह विभाग द्वारा अनुमत किए गए मार्गों पर बसों का आवागमन हो सकेगा। ग्रीन जोन में सिटी बस सेवाएं अनुमत होंगी। व्यक्तियों, वाहनों का आवागमन केवल इन गाईडलाईन्स के अन्तर्गत आपातकाल या अनुमत गतिविधियों के लिए ही होगा। कोई भी व्यक्ति जो लोकडाउन की शर्तों का उल्लंघन करता है कि विरूद्ध वाहन की जब्ती सहित कठोर कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।