ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
पर्यावरण को बचाया तो हरियाली के साथ खुशहाली भी आएगी: सांसद दीयाकुमारी
June 5, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान
राजसमन्द। पर्यावरण को बचाना है तो युवा शक्ति को पूरी ऊर्जा के साथ आगे कदम बढ़ाना होगा। प्रकृति के साथ मित्रवत व्यवहार ही पर्यावरण को संतुलित करने का एक मात्र उपाय है। हमें अधिकतम संख्या में पौधरोपण करना चाहिए ताकि आने वाले समय मे हरियाली के साथ खुशहाली भी आ सके।
 
विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राजसमन्द विधानसभा की पसुन्द ग्राम पंचायत में पूर्व सांसद स्व. हरीओम सिंह राठौड़ की स्मृति में बनाए जा रहे 'हरीओम उपवन' के उद्घटान और नामकरण के अवसर पर वीसी के माध्यम से ऑनलाइन रूबरू हुई  सांसद दीयाकुमारी ने सांसद राठौड़ को नमन  करते हुए कहा कि जीवन और मृत्यु पर किसी का अधिकार नहीं, लेकिन ऐसे व्यक्तित्व को याद करना हमेशा सुखदायी होता है जिसकी लोकप्रियता और सरलता की दुनिया कायल हो। 
 
सांसद ने कहा कि स्व राठौड़ जैसे व्यक्तित्व के लोगों को याद करने मात्र से ऊर्जा मिलती है, जिनके जाने के बाद भी लोग हमेशा याद करते हैं और जिनकी लोकप्रियता आसमान छूती है। इस उपवन के माध्यम स्व. राठौड़ की यादे हमेशा ताजा रहेगी।
इस अवसर पर युवा सरपंच अयन जोशी ने कहा कि हरीओम उपवन विकसित करने की प्रेरणा का स्त्रोत  सांसद दीयाकुमारी है। मेने पूर्व सांसद राठौड़ को देखा तो नहीं लेकिन आमजनता और सांसद दीयाकुमारी का उनके प्रति सम्मान देख कर मुझे प्रेरणा मिली। 
 
100 बीघा चरागाह भूमि पर बनेगा हरीओम उपवन
 
पसुन्द सरपंच अयन जोशी के नेतृत्व में पूर्व सांसद स्व. हरिओम सिंह राठौड़ की स्मृति में " हरिओम उपवन" बनेगा। जिसका शिलान्यास व नामकरण सांसद दीयाकुमारी ने ऑनलाइन किया। इस अवसर पूर्व सांसद राठौड़ के छविचित्र पर माल्यार्पण कर, , कुंजा, गुलमोहर के पांच पौधे लगाकर शिलान्यास और नामकरण किया गया।
 
सांसद ने दिल्ली से वीसी के द्वारा किया उद्घाटन
 
सांसद दीयाकुमारी की हार्दिक इच्छा थी कि इस शुभअवसर पर वो उपस्थित रहती परन्तु दिल्ली में क्षेत्र की कुछ समस्याओं को लेकर मंत्रियों से मुलाकात निश्चित होने के कारण नहीं आ पाई और वीसी के माध्यम से ही शिलान्यास और नामकरण समारोह को संबोधित किया। इस दौरान सांसद ने सरपंच और वार्डपंच सहित उपस्थित लोगों का आभार व्यक्त किया।
 
इस अवसर पर पूर्व चेयरमेन महेश पालीवाल, पूर्व उपप्रधान सुरेश जोशी, पूर्व सांसद हरीओम सिंह राठौड़ के पुत्र समाजसेवी करणवीर सिंह राठौड़, संसदीय क्षेत्र मीडिया संयोजक मधुप्रकाश लड्ढा, गोपालकृष्ण पालीवाल, प्रवीण नन्दवाना, सुनील जोशी, गोविंद प्रजापत, मनोज जोशी, नर्बदा शंकर पालीवाल, हितेश जोशी, गिरिराज काबरा, भेरूलाल जाट, पपुदास वैष्णव, सहित बड़ी संख्या में मातृशक्ति उपस्थित थी।