ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
राजस्थान पुलिस द्वारा कोरोना की रोकथाम के लिए किये गये अनेक अभिनव प्रयास
March 29, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान

जयपुर। राजस्थान पुलिस मुख्यालय द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के संबंध में अनेक अभिनव प्रयास किये गये है। इस सम्बन्ध में 20 मार्च को पुलिसकर्मियों के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये गयेपुलिसकर्मियों से सजग एवं सावधानीपूर्वक अपनी ड्यूटी को अंजाम देने के साथ ही कोरोना के संबंध में सर्तकता बरतने एवं दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये।

पुलिसकर्मियों को 20 मार्च को ही अग्रिम आदेशों तक ब्रेथ एनालाइजर का उपयोग नहीं करने के निर्देश दिये गये। मीटिंगों का आयोजन कम से कम करने के साथ ही कार्यालयों में ली जाने वाली मीटिंग विडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के द्वारा ली जा रही है। अधिक संख्या में कर्मचारियों को बुलाये जाने वाली मीटिंगों का आयोजन टाला गया है। आवश्यक परिस्थितियों को छोडकर राजकीय यात्राऐं स्थागित कर दी गयी हैकार्यालयों द्वारा आपस में किये जाने वाले पत्राचार यथासंभव ई-मेल द्वारा ही किये जा रहे है। कार्यालयों को प्राप्त एवं प्रेषित की जाने वाली डाक को कार्यालय की बिल्डिंग के प्रवेशद्वार पर ही ली जा रही है तथा कार्यालय भवनों के प्रवेश द्वारा पर ही सेनेटाईजर रखे गये है।

जीआरपी, यातायात एवं अस्पतालों की चौकियों पर पदस्थापित व कार्यरत पुलिस कर्मियों का बीमार व्यक्तियों एवं अन्य आमजन से निरन्तर सम्पर्क को ध्यान में रखते हुए: उनसे और अधिक सावधानी एवं सतर्कता बरतने का आग्रह किया गया है। सभी तरह की विभागीय पदोन्नति परीक्षाएं (लिखित एवं आउटडोर), निरीक्षण तथा सोमवार व शुक्रवार को होने वाली परेड एवं सम्पर्क सभाओं को अग्रिम आदेशों तक तुरन्त स्थगित कर दिया गया है

समस्त पुलिस कार्यालयों में एक प्रतिशत हाइपोक्लोराइट के द्वारा दरवाजों, कुर्सियों, अलमारियों के हत्थों, मेज, सीढियों की रैलिंग, फर्श एवं अन्य संभावित मुख्य रुप से स्पर्श में आने वाली वस्तुओं, उपकरणों आदि पर दैनिक रुप से पोछा लगवाते हुए विसंक्रमित किया जा रहा है।

किसी भी कार्मिक में जुकाम, खांसी, बुखार एवं वायरल बुखार जैसे लक्षण पाये जाने पर तुरंत चिकित्सक से सम्पर्क करने तथा कार्यालय से अवकाश पर रहने के लिए कहा गया है

लॉकडाउन के दौरान आमजन को डिजीटल पास

राजस्थान पुलिस ने एक अभिनव कार्य करते हुए लॉकडाउन के दौरान आमजन को डिजीटल पास जारी करने के संबंध में राजस्थान पुलिस द्वारा RajCop Citizen Mobile App पर Lock Down Pass के नाम से Feature दिया गया है। इस सुविधा हेतु आमजन अपने मोबाईल पर Google play store के माध्यम से RajCop Citizen Mobile App डाउनलोड करने के पश्चात SSO ID से लोगिन कर इस सुविधा का उपयोग कर सकते हैं। इसके माध्यम से आमजन व व्यावसायिक फर्म द्वारा उचित कारणों के साथ आवेदन किया जा सकता है। आवेदन पर संबंधित सक्षम अधिकारी द्वारा विचार कर आवश्यकतानुसार ऑनलाईन डिजीटल पास जारी कर संबंधित आवेदक की ई-मेल आईडी पर मेल किया जायेगा। SSO ID बनाने हेतु लिंक है: https://sso.rajasthan.gov.in/register

जयपुर में टैक्सी कार की सुविधा उपलब्ध कराने की सराहनीय पहल

कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन में फंसे अथवा अति आवश्यक परिस्थितियों के लिए ट्रैफिक पुलिस जयपुर ने टैक्सी कार की सुविधा उपलब्ध कराने की सराहनीय पहल की है। अतिआवश्यक परिस्थितियों में आमजन यातायात नियंत्रण कक्ष के नंबर 8764866972 एवं 0141.565630ए 2561256 एवं मेल आईडी sptraf-rj/nic.in पर सूचना दे सकते हैंअन्य जिलों में भी इसी प्रकार की व्यवस्थाएं की जा रही हैं

बीकानेर में दम्पती की पहल

बीकानेर में तैनात दम्पति कम्पनी कमांडर शिखा विश्नोई अपने पति विजयपाल विश्नोई की सहायता से अपने घर में ही स्टैंडर्ड मास्क तैयार कर रही है। इन स्टैंडर्ड मास्क को पति उपनिरीक्षक विजय पाल विश्नोई वितरण कर रहे है। पुलिस कर्मी की सुविधानुसार ये मास्क डिजाइन किये जा रहे है।

मास्क को मास्क को धो व प्रेस कर पुनः उपयोग में लिया जा सकेगा

चुरू पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने बताया कि पुलिस कर्मियो की सुरक्षा के लिये पुलिस लाईन चूरू में तैयार किये गये मास्क पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को वितरित किये गये। इन मास्कों को धोकर व प्रेस कर पुनः उपयोग में लिया जा सकेगा। अंतरराज्यीय सीमा व अन्तर्जिला सीमा पर नाकाबन्दी व जिले में विभिन्न स्थानो पर सुदृढ नाकाबन्दी हेतु 200 ड्रम तैयार करवाये गये हैं जो जिले के समस्त थानो में वितरित किये जा रहे हैपति उपनिरीक्षक विजय पाल विश्नोई वितरण कर रहे है। पुलिस कर्मी की सुविधानुसार ये मास्क डिजाइन किये जा रहे है।

जिला टोंक पुलिस का नवाचार

पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू ने बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मध्यनजर तथा मास्क की दरों में वृद्धि व उपलब्धता की कमी को दृष्टिगत रखते हुये जिला टोंक पुलिस ने पुलिस कर्मचारियों/अधिकारियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिये अपने स्तर पर खाकी कलर के सूती कपड़े के वर्दी पैटर्न में मास्क तैयार करवाये जाकर 23 मार्च को ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को निःशुल्क वितरित कर नवाचार किया गया

एसडीआरएफ के जवानों ने सीपीआर देकर बचाई जान

एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम ने 24 मार्च को भीलवाड़ा में एसडीआरएफ जवानों के साथ तैनात नर्सिंगकर्मी की तबियत खराब हो जाने पर सीपीआर देकर नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। अब उनकी हालत खतरे से बाहर है

भीलवाड़ा जिले में थाना प्रताप नगर के अन्तर्गत पटेल नगर विस्तार कम्यूनिटी हॉल ड्यूटी पोईन्ट पर एसडीआरएफ जवानों के साथ तैनात नर्सिंगकर्मी निसार मोहम्मद की मंगलवार को अचानक तबीयत खराब हो गई थी। एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम के जवानों ने तुरंत उन्हें सीपीआर देकर अस्पताल पहुंचाया।

बीट कांस्टेबल अपने एरिया में सतर्क है

कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेशवासियों से अपील की गयी है कि उनके गांव या शहर में किसी दूसरे राज्य या विदेश से कोई व्यक्ति आया है तो उसकी तत्काल कंट्रोल रूम को जानकारी दे। आमजन को अपने आस पड़ोस में किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण दिखाई दे तो उसकी जानकारी भी कंट्रोल रूम पर देने की अपील की गयी है। बीट कांस्टेबल इस संबंध में अपने एरिया में सतर्क है और बाहर से आये व्यक्तियो की सूचना प्रशासन को दे रहे है