ALL राजस्थान राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
राज्य में कांग्रेस की विद्वेष की राजनीति बेनक़ाब: डा.पूनियाँ 
May 5, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान
प्रदेश में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के ख़िलाफ़ कांग्रेसी कार्यकर्ता द्वारा दर्ज एफ़आईआर पर रोक, सत्य की जीत
 
जयपुर।  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के ख़िलाफ़ कांग्रेसी कार्यकर्ता द्वारा दर्ज एफआईआर पर जोधपुर उच्च न्यायालय की रोक का स्वागत करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा.सतीश पूनियाँ ने कहा की इससे कांग्रेस की विद्वेष की राजनीति बेनक़ाब हुई है । सत्य की जीत हुई है।
 
डा.पूनियाँ ने कहा की जनहित के सब मोर्चों पर विफ़ल साबित हुई अशोक गहलोत सरकार , अपने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं से विपक्ष के नेताओं पर झूँठे मुक़दमे दर्ज कर डराना चाहती है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और आईटी विभाग के प्रमुख अमित मालवीय के ख़िलाफ़ केवल इसलिए मुक़दमा दर्ज करवा दिया गया की उन्होंने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के कारनामों की पोल खोली थी । और ये सब कांग्रेस के आला नेताओं की शह पर हुआ।
 
डा. पूनियाँ ने कहा की एक तरफ़ प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष के शासन वाली राज्य सरकारों को भी इस विपत्ति में बिना भेदभाव के भरपूर मदद कर रहे है । दूसरी तरफ़ प्रदेश सरकार जनता की सेवा में रात दिन लगे भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर मुक़दमे कर उनकी आवाज़ को दबाने की नाकाम कोशिस कर रही है । राज्य में कोरोना संकट के समय सेवाकार्यों में लगे दो विधायकों और दर्जनों कार्यकर्ताओं के खिलाफ विभिन्न धाराओं में पूरे प्रदेश में मुकदमे दर्ज करवाकर सरकार डरा रही है ,लेकिन भाजपा का कार्यकर्ता सरकार के डराने से डरने वाला नहीं है । इस अन्यायी सरकार की हर जनविरोधी नीति के ख़िलाफ़ मुखरता से आवाज़ उठाएगा ।