ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
राज्यसभा चुनाव की आड़ में कांग्रेस ने बनाई अराजकता की स्थिति: कर्नल राज्यवर्धन
June 12, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान

प्रदेश की सीमाएं कभी खोलने व बंद करने से जनता में मची अफरा तफरी, विधायक कैद में, अपराधी घूम रहे हैं खुले, कांग्रेस की गुटबाजी, सजा भुगत रही जनता।

जयपुर। पूर्व केन्द्रीय मंत्री और सांसद जयपुर ग्रामीण कर्नल राज्यवर्धन ने प्रदेश में कांग्रेस सरकार की नीतियों पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि जनता त्रस्त है। राज्यसभा चुनाव की आड़ में कांग्रेस ने राजस्थान में अराजकता की स्थिति बना रखी है। कांग्रेस से ना तो सरकार चल रही है और ना ही पार्टी, पूरे प्रदेश में पानी के लिए त्राही-त्राही मची हुई है। बिजली में कटौती और बिलों में बढोतरी की जा रही है, किसान के पास ना तो पानी है और ना ही उनके बिजली के बिल माफ किए जा रहें है।

कानून व्यवस्था का तो यह हाल है कि अपराधी खुले घूम रहें है और विधायक कैद है। अत्याधिक राजनैतिक दबाव के कारण पुलिस वाले आत्म हत्या कर रहें है। सरकार को जनता की कोई परवाह नहीं है वह सिर्फ अपने स्वार्थ के बारे में सोच रही है प्रदेश की सीमाएं कभी बन्द करने तो कभी खोलने के आदेश दे रही है जिससे जनता में अफरा-तफरी मची हुई है, लोगों ने सामान इकट्ठा करना शुरू कर दिया जिससे सड़को एवं बाजारों में अचानक भीड़ उमड़ पड़ी जिससे कोरोना संक्रमण फैलने की संभावनाएं बढ़ गई।

कर्नल राज्यवर्धन ने कहा कि राजस्थान सरकार को ना तो ठीक तरीके से काम करना आता है और ना ही कोरोना को फैलने से रोकना, दिल्ली में बैठे नेताओं के दिखाने के लिए कांग्रेस द्वारा अनेक प्रकार के ड्रामें किए जा रहें है कांग्रेस की गुटबाजी को प्रदेश की जनता भली-भांति जानती है। इसकी सजा भी भुगत रही है। राजस्थान में सभी जानते है कि बसपा के विधायक किस प्रकार लाए गये थे। सरकार को यदि अपने विधायक बचाने है तो ड्रामें करने की जगह जनता की सेवा करनी चाहिए। वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए देश का प्रत्येक नागरिक यह जानता है कि देश सिर्फ मोदी सरकार की वजह से ही चल रहा है।