ALL राजस्थान अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
तिब्बत मुक्ति में चीन के विरुद्ध आक्रामक हुआ बीटीएसएम 
May 25, 2020 • तहलका ब्यूरो • राष्ट्रीय
भारत तिब्बत सहयोग मंच के प्रचार विभाग की राष्ट्रीय प्रथम ई-बैठक में लिए गए निर्णय, मीडिया योद्धाओं से देंगे हम दुनिया के दुश्मन चीन को मात, चीन के सामानों का बहिष्कार कर हम जीत लेंगे आधा युद्ध
 
जयपुर/लखनऊ/दिल्ली। कोरोना-दुष्चक्र में पूरी दुनिया को संकट में डालने वाले जगत-विरोधी कलंकित देश चीन के विरुद्ध 'भारत तिब्बत सहयोग मंच' यानी बीटीएसएम ने व्यापक रणनीति तैयार कर ली है। अपने मीडिया व प्रचार योद्धाओं के बलबूते मंच अब चीन के विरुद्ध एवं तिब्बत व कैलाश-मानसरोवर की मुक्ति आंदोलन की नई गाथा लिखेगा। अपनी आक्रामक व सुव्यवस्थित रणनीति के आधार पर मंच संघ-प्रचारक इंद्रेश जी की अगुवाई में इस अभियान को धार देगा।  इसके लिए मंच के प्रचार विभाग ने राष्ट्रीय स्तर पर एक्शन प्लान तैयार किया है। 
 
तिब्बत व कैलाश मानसरोवर की मुक्ति में चीन का विरोध करने वाले दुनिया के सबसे बड़े सामाजिक व सांस्कृतिक संगठन 'भारत तिब्बत सहयोग मंच' की आज आहूत इस विशेष ई-मीटिंग में यह तय हुआ कि सबसे पहले संगठन में विभिन्न स्तरों पर मीडिया योद्धाओं की टास्क फोर्स बनाई जाए। सोशल मीडिया पर चारों दिशा से हमलावर रणनीति के साथ मंच उतरेगा।
 
बैठक में राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष सरदार हरजीत सिंह ग्रेवाल की मौजूदगी में राष्ट्रीय महामंत्री पंकज गोयल के भेजे गए संदेश के आधार पर राष्ट्रीय प्रचार प्रभारी हेमेंद्र तोमर ने रणनीति के संकल्प उपस्थित पदाधिकारियों को बताए। संकल्पों पर विमर्श तरीके से आयोजित इस बैठक में सोशल मीडिया पर अब और आक्रामक होने के लिए तिब्बत व कैलाश मानसरोवर की मुक्ति के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ई-कैंपेन डिजिटल हस्ताक्षर अभियान चलाए जाने पर सहमति बनी। 
 
साथ ही फेसबुक पेज लाइव के माध्यम से देश भर के विद्वानों का उद्बोधन कराए जाने की भी बात तय हुई। एकेडमिक डेटाबेस तैयार करने के लिहाज से भारत, तिब्बत व चीन के आपसी संबंधों को लेकर व दस्तावेज व साक्ष्यों को इकट्ठा करने की तैयारी की जा रही है। इसके अलावा, शीघ्र ही एक अधिकारिक वेबसाइट भी तैयार किए जाने के प्रस्ताव पर भी निर्णय लिया गया।
 
बैठक में राष्ट्रीय प्रचार प्रमुख जगदंबा सिंह ने कहा कि परस्पर विचार-विमर्श से और ज्यादा कारगर रणनीति बना कर सबका साथ ले के हम इस चीन के विरुद्ध शीघ्र ही संपूर्ण सामाजिक क्रांति करके जीत हासिल कर लेंगे। चीन के सामानों के बहिष्कार से उसकी आर्थिक कमर तोड़ने पर हम सब लोग हर दिन कुछ न कुछ अपने व्यवहार में जुट जाएं।
 
इस राष्ट्रीय बैठक में राष्ट्रीय मंत्री रामकिशोर पसारी व विजय शर्मा, राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष रेखा गुप्ता, महामंत्री प्रीति सागर, राष्ट्रीय युवा अध्यक्ष अरुण यादव, द्वि-क्षेत्र संयोजक सौरभ सारस्वत के साथ-साथ रविकांत, मुन्नी झा, प्रखर त्रिपाठी, सौरभ शर्मा, अनुज खन्ना, तृप्ति केडिया, डॉ वाई के स्वामी, प्रियंका शुक्ला, विजेंद्र पाल सिंह, ओमप्रकाश, रचना कालरा, आनंद पांडे आदि ने भी अपने सुझाव दिए। बैठक में राष्ट्रीय स्तर व प्रांत स्तर के अन्य प्रमुख पदाधिकारियों में पूनम मानिक, गुरमीत सिंह सेखों, शिवाकांत तिवारी, जय कमल अग्रवाल, प्रमोद गोयल, प्रिय यादव, रुचि त्रिपाठी,आकाश वर्मा, अजीत अग्रवाल, पुलकित शर्मा आदि उपस्थित रहे।
 
इस ई-मीटिंग में गैर-चाइनीज़ ऐप पर अधिकतम एक सौ लोगों की सीमा होने की वजह से बड़ी संख्या में कई पदाधिकारी बैठक प्रतीक्षा सूची में रहे। यह इस बैठक की सफलता का कीर्तिमान रहा। देर शाम तक चली इस ई-बैठक के तकनीकी होस्ट आशुतोष गुप्ता व सहयोगी केपी मिश्र रहे।