ALL राजस्थान राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय लेख अध्यात्म सिने विमर्श वाणिज्य / व्यापार
विप्र सेना का गठन, सुनील तिवाड़ी सेनाप्रमुख
March 21, 2020 • तहलका ब्यूरो • राजस्थान
जयपुर। न्याय प्रतिबद्धता, स्वाभिमान रक्षा एवं पीड़ित को संरक्षण के उद्देश्य से विप्र सेना का गठन किया गया है। यह सेना ब्राह्मणों के साथ सर्वसमाज के हितार्थ एक सजग प्रहरी के रूप में देश भर में काम करेगी। जयपुर के तेजतर्रार युवा समाज सेवी सुनील तिवाड़ी विप्र सेना के प्रमुख होंगे।
 
विप्र सेना प्रमुख सुनील तिवाड़ी सेना के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि हम भगवान परशुराम की संतान है, जिन्होंने अत्याचार के खिलाफ लड़ाईयां लड़ी व अत्याचारी राजाओं का नाश किया। इसीलिए हम श्रीपरशुराम के आदर्शों पर चलते हुए पीड़ित, वंचित, शोषित वर्ग के लिये मुखरता से आवाज उठायेंगे चाहे वे किसी भी जाति वर्ग के हों।
 
सुनील तिवाड़ी ने बताया कि देश में ब्राह्मण समाज की सर्व स्वीकार्य संस्था विप्र फाउंडेशन विप्र सेना की मार्गदर्शक व संरक्षक की भूमिका में रहेगी। विप्र सेना व विप्र फाउंडेशन के रिश्ते को राम और हनुमान की संज्ञा देते हुए सुनील तिवाड़ी ने समाजजनों से विप्र सेना से जुड़ने का आह्वान किया। कोरोना कहर के चलते सेना का समारोहपूर्वक शुभारंभ कुछ दिन पश्चात किया जायेगा। विप्र फाउंडेशन द्वारा कोरोना सम्बन्धित बचाव अभियान में विप्र सैनिक मदद करेंगे।
 
सेना के गठन पर देश के अन्य भागों के प्रमुखजनों से विडीयो संवाद किया गया। विप्र फाउण्डेशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शंकर शर्मा, मुकेश दाधीच, राष्ट्रीय महामंत्री पवन पारीक, राष्ट्रीय मंत्री विनोद अमन, प्रदेश अध्यक्ष पंडित देवीशंकर शर्मा, प्रदेश महामंत्री राजेश कर्नल, सतीश शर्मा व राजेन्द्र शर्मा, कोषाध्यक्ष नरेंद्र हर्ष, युवा के प्रदेश अध्यक्ष सुनील उदईया, महिला प्रदेश अध्यक्ष अलंकृता शर्मा ने विप्र सेना के गठन पर तिवाड़ी को बधाई दी।